Humse na rooth jaaye


Kai baar bina galti ke bhi
hum galti maan lete hain..
Kyunki daar lagta hai,
kahin koi apna humse na rooth jaye..

कई बार बिना गलती के भी 
हम गलती मान लेते हैं 
क्यूंकि डर लगता है
कहीं कोई अपना हमसे ना रूठ जाये